जो यात्री उज्जैन में महाकाल की पूजा करने आते हैं उनके लिए काल भैरव मंदिर के दर्शन करना भी ज़रूरी है | ये मंदिर बहुत पुराना है और इसे राजा बद्रसेनन ने बनवाया था | 

जब आप मंदिर की तरफ जायेंगे तो आप हैरान हो जायेंगे क्यूंकि वहां के विक्रेता खुले में शराब बेच रहे होते हैं | वह इसलिए क्यूंकि भगवान को चड़ने वाला मुख्य प्रशाद शराब है |

छोटी और बड़ी शराब की बोतलें अन्य पूजा सामग्री के साथ मंदिर के बाहर बेचीं जाती है | मंदिर में पहुँचने के बाद पंडित उस बोतल की आधी सामग्री एक छोटे बर्तन में डालकर उसको मूर्ति के मुंह के नज़दीक ले जाता है | धीरे धीर कर वह शराब खत्म हो जाती है और जब वह पूर्ण रूप से समाप्त हो जाती है तो पंडित बर्तन को वहां से हटा लेता है | इस घटना को आप नज़दीक से देख सकते हैं |किसी को नहीं पता की ये शराब कहाँ जाती है लेकिन ये सदियों से होता आ रहा है क्यूंकि ये मंदिर काफी पुराना है|



Please join our telegram group for more such stories and updates.telegram channel

Books related to रहस्यमयी भारतीय धार्मिक स्थान -भाग 1


रहस्यमयी भारतीय धार्मिक स्थान -भाग 1